Saturday, October 12, 2013

अब कांग्रेस को शौचालय का ही अंतिम सहारा ।

अब कांग्रेस को शौचालय का ही अंतिम सहारा ।

मोदी जी के बयान " देवालय से पहले शौचालय " के बाद कांग्रेसियों की आँखों में चमक साफ़ देखी जा सकती है। अब उनके मन में उम्मीद की एक किरण जाग गई है कि अब शौचालय उन्हें हारने से बचा लेगा।
परन्तु अब देश सब जानता है ।

पूरा मामला इस प्रकार है -
गाँधी जयंती के अवसर पर दिल्ली में युवाओ के एक कार्यक्रम में मोदी जी आमंत्रित थे।
कार्यक्रम का विषय था "गाँधी जी और उनके ग्रामीण स्वच्छता के विचार"।
मोदी जी ने गाँधी जी के साफ़ सफाई के विचारो को रखा .. ।
मोदी जी ने कहा कि मै कट्टर हिंदूवादी छवि रखते हुए भी ये कहने का साहस रखता हूँ कि यदि किसी ग्राम पंचायत के पास पैसा हो तो वो सबसे पहले शौचालय बनवाये ..फिर मन्दिर बनाये .क्योकि पूजापाठ कभी गंदगी के माहौल में नही होती।
यदि हमारा वातवरण ही गंदा होगा तो तमाम बीमारियाँ फैलेगी इसलिए शौचालय बनवाना बहुत जरूरी है।
मोदी ने मन्दिरों की पवित्रता पर सवाल नही उठाया।
जयराम रमेश ने तो मन्दिरों की पवित्रता पर ही सवाल खड़े कर दिए थे।

No comments:

Post a Comment

अधार्मिक विकास से शहर बन रहे है नरक

जीता-जागता नरक बनता जा रहा है गुरुग्राम: स्टडी गुरुग्राम गुरुग्राम में तेजी से हो रहे शहरीकरण और संसाधनों के दोहन को लेकर एक स्टडी ...