Tuesday, July 9, 2013

युपी के ब्राम्हण समाज जरा सावधान




मित्रों पिछली बार के लोकसभा चुनावों में इस औरत ने हिंदुओं को तोड़ने के लिए नारा दिया था .... तिलक तराजू और तलवार.. इनको मारो जुते चार, तिलक = पंडित, तराजु = वैश्य, तलवार = राजपूत ... ये औरत इन चारों को चार- चार जुते मारने को कह रही थी....

आप भूल सकते हैं लेकिन मैं नहीं भूल सकता इस औरत की इस नीचता को जो इसने हिंदुओं के बीच में नफरत फ़ैलाने की ये घटिया हरकत की थी, और अब दोबारा ये औरत उसी राह पर चल पड़ी है, तथा एक बार फिर ये युपी में हिंदुओं को बांटने के लिए अपनी पार्टी का झंडा लेकर निकल पड़ी है..

कृपया युपी के ब्राम्हण समाज जरा सावधान हो जाए, मायावती- मोदी की तरफ ब्राम्हण समाज का वोट जाते देख पगलागयी है, और ब्राम्हण समाज को अपने फंदे में फ़साने की कोशिश कर रही है, याद रखो ये वही मायावती है जिसने युपी में 'हरिजन एक्ट' लगाकर पचास हजार से ज्यादा ब्राम्हणस् को झूठे मुकदमों में फसाया था, जिससे हरिजन वा ब्राम्हणस् के बीच नफरत की खाई खोदने में ये औरत कुछ हद तक सफल भी हुई थी.. और वो बेचारे आज भी कोर्ट के चक्कर लगा रहे हैं, इसको पता है कि ब्राम्हण मायावती से खार खाए बैठे हैं, जिसकी वजह से मायावती ब्राम्हण समाज को लुभाने में लगी है...

भूल जाओ इस समय कि आप पंडित हो, बनिया हो, जाट हो, मिश्रा हो, शर्मा हो, तिवारी हो, यादव हो, सिंह हो, सिख हो, वर्मा हो आदि.. इस समय आप केवल एक हिंदू हो, और यदि देश बचाना है तो इन चीजों से ऊपर आकार अपने वोट की चोट को सिर्फ एक जगह मारो,

याद रखो हिंदुओं भले ही आप के वोट जात और क्षेत्रवाद के नाम पर बंटे हुए हैं, पर आपके दुश्मन के वोट की चोट हमेशा एक ही जगह पड़ती है, और वो 'जगह' है घोर हिंदूविरोधी कांग्रेस/ सपा/ बसपा पार्टी...

भले ही हम आपस में बंटे हुए हैं, पर इन घोर हिंदू विरोधी पार्टिओं के लिए हम सभी सिर्फ एक हिन्दू हैं, और जिनका लक्ष्य है हिंदुओं का सफाया...

गौर से देख लो युपी के हिंदुओं इस औरत का चेरहा जल्दी ही शायद ये आपके शहर में भी हो सकती है अपनी इसी चाल ले साथ कि हिंदुओं को तोडो और राज करो...

याद रखिये मित्रों युपी में चाहें कांग्रेस हो सपा हो या इसकी बसपा हो, ये तीनों पार्टियाँ आजतक जब भी युपी की सत्ता में आई हैं, हमेशा हिंदुओं को तोड़ कर इन पार्टिओं ने सत्ता पायी है.. और इसी प्रयास में एक बार फिर ये औरत लग गयी है..

शेयर करें/ कापी पेस्ट करें, जय हिंद, जय भारत, वंदेमातरम.

No comments:

Post a Comment

अधार्मिक विकास से शहर बन रहे है नरक

जीता-जागता नरक बनता जा रहा है गुरुग्राम: स्टडी गुरुग्राम गुरुग्राम में तेजी से हो रहे शहरीकरण और संसाधनों के दोहन को लेकर एक स्टडी ...