Saturday, July 6, 2013

इशरत जहा - कुछ तथ्य

अगर मोदी के पास गृहमंत्रालय का चार्ज होने से उन्हें एनकाउंटर के लिए ये दोगले कांग्रेसी, मीडिया वाले और तथाकथित मानवाधिकारवादी दोषी सिद्ध करने पर तूल गये तो फिर कोयला मंत्रालय का चार्ज प्रधानमंत्री के पास होते हुए १० लाख करोड़ का घोटाले में प्रधानमंत्री दोषी क्यों नही है ??

----------------------------------------

बिहार के एक १८ साल के हिन्दू लडके राहुल राज का मुंबई पुलिस ने इस खबर पर कैमरों के सामने एकाउंटर कर दिया था कि वो राज ठाकरे की हत्या करने मुंबई आया है ...

क्या नितीश कुमार ने कभी राहुल राज को अपना बेटा बोला ?? कुछ कुछ उछलने के बाद नितीश कुमार ही नही बल्कि पूरी की पूरी जेडीयू ने कभी इस मुद्दे को नही उठाया ..

बिहार के लोगो जागो .. और इस दोगली जेडीयू को इसके विस्वासघात की कठोर सजा दो

--------------------------------

" प्रज्ञा ठाकुर " के विरुद्ध जांच में एक भी आरोप अभी तक सिद्ध नहीं हुआ .., फिर भी वह " भगवां आतंकवाद " की दोषी दिखा कर , बिना किसी चार्जशीट के जेल में बंद हैं ! ... क्या मानव अधिकार वाले अथवा मुस्लिम समुदाय या फिर कोर्ट , इशरत जहाँ के अलावा इस प्रकरण पर भी ध्यान देंगे .??.,

--------------------------------

शमीमा जावेद को इत्र का व्यापारी बताती हैं. हलफनामा ये भी कहता है कि शमीमा कौसर को अपनी बेटी इशरत के कॉलेज जाने और ट्यूशन कराने जैसी एक-एक बात याद है, लेकिन उन्हें ये याद नहीं कि आखिर अगर इशरत सेल्स गर्ल के तौर पर जावेद के लिए काम करती थी, तो उसका ऑफिस कहां था. साथ में हलफनामे में सवाल ये भी खड़ा किया गया कि आखिर इत्र और साबुन का वो कैसा कारोबार था, जिसे लेकर जावेद इशरत को कई बार मुंबई से बाहर, देश के दूसरे हिस्सों और शहरों में लेकर गया था, वो भी कई-कई दिनों के लिए.

इशरत और जावेद को लश्कर का आतंकी ठहराने के बाद ये हलफनामा बड़े विस्तार से जीशान जौहर और अमजद अली के पाकिस्तानी होने और उनके लश्कर से संबंधित होने का ब्यौरा मुहैया कराता है. यही नहीं, हलफनामे में इस बात का भी जिक्र है कि किस तरह से मुठभेड़ के एक महीने बाद लश्कर के मुखपत्र माने जाने वाले गजवा टाइम्स ने इशरत और उसके साथ मारे गये लोगों को मुजाहिदीन करार देते हुए इशरत के शव को बिना पर्दा जमीन पर लिटाये जाने पर एतराज जताया था.

-----------------------------

आईबी निदेशक आसिफ इब्राहिम ने केंद्र सरकार को कड़ा पत्र लिखा .. कहा आतकंवादीयो पर राजनीती नही होनी चाहिए और यदि आईबी के अधिकारियो का मनोबल तोड़ा गया तो फिर देश में आतंकी घटनाये बढ़ेगी क्योकि आईबी का कोई भी अधिकारी किसी राज्य या केंद्र को इनपुट देने से डरेगा

--------------------

मुद्दा बड़ा इशरत जहाँ का नहीं है बल्कि चिंताजनक बात है की देश की ख़ुफ़िया एजेंसी आईबी को इस मसले पर घसीटना तथा आईबी अफसर राजेन्द्र जी का नाम आरोप पत्र में डालना ......

..इस घटना से आईबी की छवि को विश्व स्तर पर धूमिल किया जाना इस देश के लिए घातक न सिद्ध हो ...

एक तरफ जहाँ चीन अपनी ख़ुफ़िया एजेंसियों से साइबर अटेक करने के बाद भी उसका बचाव करता है , अमेरिका अपनी ख़ुफ़िया एजेंसियों से लोगों के फोन टेप,ईमेल चेक करवा रहा है वहीँ दूसरी तरफ भारत में आईबी को कटघरे में खड़े करने की कोशिश आई बी के हाथ कमजोर करेगी ..........


---------------------

नितीश कुमार ...आप की याद्स्त कमजोर हो गई
है ...?
---------------------
इशरत जन्हा ही नहीं बिहार की बेटी थी ..बल्कि ..?
* मुम्बई में सहीद स्मारक को इज्जत देने वाले मुल्ले
भी बिहार के ही बेटे थे ..?
* दिल्ली गैंग रेप में शामिल मुल्ला भी बिहार
का बेटा था .....?
* मुम्बई बम कांड में शामिल अफरोज अह्म्द्द
भी बिहार का ही बेटा था ..?
......................
इन लोगो को कब महिमामंडित करेंगे : आप और आपके
मुल्ले सांसद

3 comments:

  1. मैं एक बिहार का रहने वाला गरीब व्यापारी हूँ . अगर आपके हाँ में हां मिलाउंगा जो तथ्य भी है तब न जाने बिहार सरकार के वर्तमान किरदार मेरे ऊपर कौन कौन से और कितने जुल्म ढायेंगे, एक बार सच बोलने पर तो ८ महीने मेरी फैक्ट्री का लाइसेंस केंसिल कर दिया गया था , और पटना हाई कोर्ट से ही आदेश मिलने के बाद लाइसेंस वापस बहाल किया गया . यही है हमारा गौरवशाली बिहार .

    ReplyDelete
  2. एक इशरत जहां को मान भी लिया जाय की मोदीजी ने अपने ही रिवोल्वर से प्वाइंट ब्लेंक रेंज से मार दिया , उन लाखों इशरत जहानों का क्या हो रहा है जो जम्मू कश्मीर से विस्थापित होकर अपनी इज्जत मजबूरी में बेच ने के लिए विवश हैं और दिल्ली की सडकों पर इन्ही कांग्रेसियों के शयन कक्ष में जाने के लिए मजबूर हैं ओर इज्जत इनकी तार -तार हो रही है . है जवाब इन कांग्रेसी मठाधीशों के पास .कमिनायी की कोई पराकाष्ठा तो होगी लेकिन कांग्रेस के लोग उस पराकाष्ठा को तो कब के ही लांघ गए थे. अब यह बेवकूफ बनाने का इन कांग्रेसियों , लेफ्ट, सपा, जदयू, बहुजन समाजवादी पार्टी, तिर्नामुल कांग्रेस, द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम आदि पार्टियों का "धर्म निरपेक्ष त्ताकत एक हो " वाला नारा नहीं चलेगा . सेकुलरवाद का नारा देने वाले मुलायम यादव को ही देख लीजिए, आज़म खान जो भडूआ है के हरम में जाकर १६ वर्ष की वेश्याओं के साथ सोता है. अखिलेश को तो न जाने कहाँ कहाँ से सुंदरियां लाकर परोशी जाती होंगी ,सब अरेंजमेंट तो आज़म खान और राशिद अल्वी का ही रहता होगा .

    ReplyDelete
  3. जब कल सोनिया का बेटा बेवजह संसद में हंगामा कर रहा था तब सोनिया ऐसे कातर दृष्टि से मोदीजी की तरफ देख रही थी ,लग रहा था खा जायेगी मोदीजी को. सोनिया मेम साहिबा जी को मालूम होना चाहिए की मोदीजी वोह छिपकली है (नाट लिजार्ड ) ,वो छिपी हुई कलि हैं की अगर मुह में चले भी गए तो सोनिया जी का मुह कुतिया की तरह हो जाएगा. कुतिया तो यह है ही , सिर्फ भगवान को धन्यवाद दे की मानव का शरीर इस कुतिया को दे दिया है भगवान ने न की क्राइस्ट महोदय जी ने .इटली में तो ऐसी परिचारिकाओं को तो बिच (bitch)कहा ही जाता है , जो अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए सिर्फ शराब ही नहीं अपना बहुत कुछ परोस देतीं हैं.
    कहना यह है की आज मोदी जी की कृपा से ही यह कृपण औरत संसद में बैठ पा रही है , अगर मोदीजी चाहते तो इसको संसद में बैठने की भी इजाजत नहीं मिलती . इसके पास इंदिराजी की, जवाहरलाल नेहरु की अवैध कमाई की अकूत दौलत जमा है , अपने यह के.जी. बी. की एजेंट के रूप में काम करती थी, अब सी.आई.ए की एजेंट है , अब हो सकता यह समूचा पैसा हिन्दुस्तान में आतंकवाद फैलाने में खर्च कर दे . लेकिन मोदीजी इसको ठिकाने लगाएंगे . ऐसे भी चोरी का धन मोरी में ही जाता है .

    ReplyDelete

150000 cows to be killed

http://indianexpress.com/article/world/new-zealand-to-kill-150000-cows-to-end-bacterial-disease-5194312/ VEDIC HUMPED COW IS NEVER INFECT...