Friday, January 3, 2014

एम.जे. अकबर





रोज रात को 8 और 9 बजे सूटबूट टाई में सजधज के न्यूजचैनलों पर नरेन्द्र मोदी विरोधी कांग्रेस प्रायोजित मजलिस करने वाले 90% एंकरों/पत्रकारों/संपादकों की जितनी उम्र होगी उतना लम्बी पत्रकारिता का अनुभव एम.जे. अकबर का है और उनकी पहचान नरेन्द्र मोदी के प्रशंसक के बजाय आलोचक की है. इसमें अंतर मात्र इतना है कि ये पहचान पेड/प्रायोजित और पूर्वाग्रही आलोचक.


No comments:

Post a Comment

शंकराचार्य और सरसंघचालक एक_तुलनात्मक_अध्ययन

वरिष्ठ आईपीएस चाचाजी  श्री Suvrat Tripathi की कलम से। #शंकराचार्य_और_सरसंघचालक_एक_तुलनात्मक_अध्ययन सनातन धर्म की वर्णाश्रम व्यवस्था के ...