Thursday, January 9, 2014

काश भगवा आतँकवाद होता

"काश भगवा आतँकवाद होता"

ना केरल मे हिन्दू कटे होते
ना गोधरा मे हिन्दू जले होते
ना कश्मीर मे हिन्दू बर्बाद होता
काश भगवा आतँकवाद होता....!!

ना आसाम मेँ बहनो का बलात्कार होता
ना बंगाल मे हिन्दूओ का नरसंहार होता
ना भारत मे इस्लामिक जेहाद होता
काश भगवा आतँकवाद होता....!!

ना तेजोमहल ताजमहल बनता
ना वेधशाला कुतुबमिनार बनता
ना राम मंदिर पर कोई विवाद होता
काश भगवा आतँकवाद होता....!!

ना भय मे महाकुँभ होता
ना आतँक मे चार धाम होता
ना डर कर अमरनाथ होता
काश भगवा आतँकवाद होता"...!!

No comments:

Post a Comment

अधार्मिक विकास से शहर बन रहे है नरक

जीता-जागता नरक बनता जा रहा है गुरुग्राम: स्टडी गुरुग्राम गुरुग्राम में तेजी से हो रहे शहरीकरण और संसाधनों के दोहन को लेकर एक स्टडी ...