Sunday, June 16, 2013

शबाना आज़मी

मोदी के p.m बनने से देश की छवि ख़राब होगी - शबाना आज़मी 

देश की पहली समलैंगिक (lesbian) फिल्म में काम करके आपने तो देश की छवि में चार चाँद लगा दिए ..है न शबाना आजमी जी..
इस फिल्‍म में एक हिंदू परिवार की दो महिलाओं ननद और भाभी के बीच समलैंगिकता का रिश्‍ता दिखाया गया था,और आखिर में वे दोनों अपने पतियों से अलग होकर एक नया संसार बनाने का फैसला ले लेती हैं। इस फिल्‍म में शबाना आजमी और नंदिता दास के बीच कई अंतरंग दृश्‍य थे।
और उसमें समलैंगिक औरतों के नाम क्या रखे थे वो भी मुझे अच्छे से याद है
'सीता और राधा'
लाखों नामों में से सिर्फ यही दो नाम मिले थे, घटियापन और नीचता की भी कोई हद होती है, ऐसे काम करके इस मूढ़ ने भारतीय समाज और संस्कृति पर कीचड़ उछालने का वाहियात काम किया था
अब ये देश की छवि की चिंता करने में लगी है..
भगवान बचाए इनसे भारत की छवि को !!

No comments:

Post a Comment

शंकराचार्य और सरसंघचालक एक_तुलनात्मक_अध्ययन

वरिष्ठ आईपीएस चाचाजी  श्री Suvrat Tripathi की कलम से। #शंकराचार्य_और_सरसंघचालक_एक_तुलनात्मक_अध्ययन सनातन धर्म की वर्णाश्रम व्यवस्था के ...