Tuesday, June 11, 2013

ये सवाल L .K .ADVANI तक पंहुचा देंगे

क्या मेरे भाजपा के दोस्त मेरा और देश के
लोगो का ये सवाल L .K .ADVANI तक
पंहुचा देंगे और उनसे कहे कि इसका जवाब देश
की जनता को देने का कष्ट करेंगे।
MR. ADVANI आपने अपने इस्तीफे में
लिखा है कि आप दुखी है
कि पार्टी अपनी दिशा खो चुकी है और कुछ
नेता अपनी निजी महत्व्कंषा के चलते
पार्टी का नाश कर रहे है।
सवाल
1) पार्टी की ये स्तिथी एक दिन में तो हुई
नहीं है, तो आज से पहले आप
क्यों नहीं बोले ?
2) जब पार्टी इस तरफ जा रही थी, तब आप
क्या कर रहे थे?
3) क्या आप भी अपनी निजी इच्छा के चलते
पार्टी का नाश नहीं कर रहे है?
4) क्या देश के
लोगो की भावना की भी आपको परवाह नहीं है?
5) आप तब क्यों चुप रहे थे, जब नितिन
गडकरी ने पार्टी अध्यक्ष रहते हुए गाऊ
माता के खिलाफ बयान दिया था?
6) आप ये BLACKMAILING
की राजनीति क्यों कर रहे है?
7) और एक आखिरी सवाल
क्या आपको तीसरे मोर्चा ने प्रधान
मंत्री बनाने का भरोसा दिया है, जिस कारण
वो सब दुखी है आपकी नौटंकी पर?
दोस्तों अगर आपको मेरी बातो से सहमति है
तो तो इस पोस्ट को इतना शेयर करे
कि अडवाणी एंड पार्टी तक और भाजपा के
राजनाथ जी तक भी ये बात पहुच जाये
की अगर हिन्दू शेर
मोदी जी नहीं तो भाजपा भी नहीं।
जय करा वीर बजरंगी
हर हर महादेव

No comments:

Post a Comment

शंकराचार्य और सरसंघचालक एक_तुलनात्मक_अध्ययन

वरिष्ठ आईपीएस चाचाजी  श्री Suvrat Tripathi की कलम से। #शंकराचार्य_और_सरसंघचालक_एक_तुलनात्मक_अध्ययन सनातन धर्म की वर्णाश्रम व्यवस्था के ...