Friday, June 21, 2013

लोग तडप तडप कर मर रहे थे और सोनिया गाँधी और मनमोहन सिंह उड़ रहा था

जब एयर कोमोडोर से पूछा गया कि आखिर एयरफ़ोर्स ने इतनी देर से राहत कार्य क्यों शुरू किया ? तो पहले तो एयर कोमोडोर इस पर कोई जबाब देने से कतराते रहे .. फिर उन्होंने कहा की जौलीग्रांट एयरपोर्ट, चमोली एयरस्ट्रिप को वीवीआईपी मूवमेंट के कारण छ घंटे के लिए बंद कर दिया गया था ..साथ ही उत्तराखंड के आसमान पर किसी और विमान के उड़ान पर रोक लगा दी गयी थी क्योकि उस वक्त आसमान में वीवीआईपी उड़ रहे थे ...इसलिए एयरफ़ोर्स राहतकार्य बहुत देर से शुरू कर सकी .. अगर हमे पहले ही उड़ान की अनुमति मिल जाती तो इतने लोग नही मर सकते थे |

क्या आप जानते है की एक तरफ उत्तराखंड में लोग तडप तडप कर मर रहे थे और आसमान में कौन ऐसा चू...या वीवीआईपी उड़ रहा था जिससे राहत कार्य रोक देना पड़ा ???

मित्रो, सोनिया गाँधी और मनमोहन सिंह हिन्दुओ और हेमकुंड में सिक्खों को तडप तडप कर मरते देखने का असीम आनन्द लेना चाहते थे .. एयरफ़ोर्स ने रिक्वेस्ट भी किया था की यदि एयरफिल्ड को उडान के लिए प्रतिबंधित कर दिया जायेगा तो राहत कार्यो में बहुत बड़ी बाधा आएगी .. 

एयरफ़ोर्स के तीन छोटे विमान और सात हेलीकॉप्टरों को पुरे सात घंटो तक ग्राउंड कर दिया गया था क्योकि हिन्दुओ और सिक्खों को मरते देखने का आसिम आनन्द को सोनिया और मनमोहन हाथ से जाने नही देना चाहते थे ..

लेकिन मुझे एक बात समझ में नही आई की एक तरफ जब भयंकर प्रलय आई तो फिर चालीस करोड़ डालर कीमत का बोम्बर्दियर जेट से उडान भरकर आखिर इन दोनों ने क्या उखाड़ लिया ??

No comments:

Post a Comment

शंकराचार्य और सरसंघचालक एक_तुलनात्मक_अध्ययन

वरिष्ठ आईपीएस चाचाजी  श्री Suvrat Tripathi की कलम से। #शंकराचार्य_और_सरसंघचालक_एक_तुलनात्मक_अध्ययन सनातन धर्म की वर्णाश्रम व्यवस्था के ...