Sunday, June 16, 2013

भारत की आज़ादी के बाद के इतिहास में सबसे भयानक दंगे

भारत की आज़ादी के बाद के इतिहास में सबसे भयानक दंगे

1. 1969 में अहमदाबाद (गुजरात) में हुए थे जिसमें 5000 मुसलमान मारे गए थे। उस वक़्त गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के "हितेन्द्र भाई देसाई" थे और भारत की प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी थीं।

2. इसके बाद दूसरा बड़ा दंगा 1985 में गुजरात में हुआ जिसके बाद अन्य छोटे छोटे दंगे हुए जो महीनों तक चले, तब गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'माधव जी सोलंकी' थे और भारत के प्रधानमंत्री राजीव गांधी थे।

3. 1987 में गुजरात में फिर दंगे हुए और तब भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'अमर सिंह चौधरी' थे।

4. इसके बाद 1990 में फिर से गुजरात दंगों की आग में दहक उठा। उस समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'चिमन भाई पटेल' थे।

5. और आखिर में 1992 में हुए दंगों के समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'छिमा भाई पटेल' ही थे। सैकड़ों दंगों में से इन 5 बड़े दंगों के लिए हमारे "बुद्धिजीवी" किसे जिम्मेदार मानेंगे ? और याद रखिए गुजरात में 2002 के बाद से अमन और शांति का...!

No comments:

Post a Comment

शंकराचार्य और सरसंघचालक एक_तुलनात्मक_अध्ययन

वरिष्ठ आईपीएस चाचाजी  श्री Suvrat Tripathi की कलम से। #शंकराचार्य_और_सरसंघचालक_एक_तुलनात्मक_अध्ययन सनातन धर्म की वर्णाश्रम व्यवस्था के ...