Monday, June 24, 2013

आपदा के समय सेकुलरों-वामपंथियों ने

कौन कहता है कि आपदा के समय सेकुलरों-वामपंथियों ने कोई काम नहीं किया???
निम्नलिखित काम उन्होंने बड़ी शिद्दत से किए हैं...

१) मोदी कहाँ हैं... मोदी कहाँ हैं... की गुहार लगाई...
२) मोदी ने सिर्फ २ करोड़ रूपए दिए... कहते हुए चालीस पोस्ट डाली...
३) बाबा रामदेव और पतंजलि योगपीठ पर सवाल उठाए...
४) संघ के कार्यकर्ता कहाँ-कहाँ सेवा कर रहे हैं... उसकी लिंक्स और फोटो मांगीं...
५) "भोंदू" की विदेश यात्रा का बचाव किया और सेना की तारीफ़ करने में कंजूसी बरती..

और अंत में....

६) कोई निकम्मा सेकुलर-वामपंथी ऐसा भी रहा होगा, जिसे ये सब काम नहीं आए होंगे... उसने देश पर एक मेहरबानी यह की, कि उसने चार-पाँच दिन फेसबुक से ही दूरी बना ली... "हिन्दू आतंकियों" के सेवा कार्यों के बारे में ढेर सारी पोस्ट्स कौन पढ़े...

No comments:

Post a Comment

अधार्मिक विकास से शहर बन रहे है नरक

जीता-जागता नरक बनता जा रहा है गुरुग्राम: स्टडी गुरुग्राम गुरुग्राम में तेजी से हो रहे शहरीकरण और संसाधनों के दोहन को लेकर एक स्टडी ...